Breaking News

खादी प्रदर्शनी : पारंपरिक तांदी नृत्यों की प्रस्तुति दर्शकों का मन मोह लिया

 खादी प्रदर्शनी : पारंपरिक तांदी नृत्यों की प्रस्तुति दर्शकों का मन मोह लिया

उत्तराखंड(देहरादून),सोमवार 19 फरवरी 2024

सात दिवसीय खादी प्रदर्शनी में रविवार की शाम धुमशु जनजाति एवं सामाजिक संस्था की ओर से ग्रामोद्योग विकास योजना के अंतर्गत खादी मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें महासू महाराज की वंदना के बाद जौनसार भावर का पारंपरिक तांदी नृत्यों की प्रस्तुति दर्शकों का मन मोह लिया।

खादी ग्रामोद्योग राज्य सरकार के तत्वावधान आयोजित राज्य स्तरीय प्रदर्शनी में देशभर के हस्त कलाकारों के माध्यम से बनाये जा रहे उत्पादों को एक छत के नीचे एक बाजार उपलब्ध करा कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने का सफल प्रयास किया जा रहा है।

लोक गायक सुरेश वर्मा की ओर से एकल नान स्टॉप जौनसारी गीत और कृषि पर आधारित गीत ”चाल बोलो जाखधार की सेरी”, लोक गायक अरविंद राणा ने मुंह से ढोल की आवाज की प्रस्तुति से दर्शक काफी उत्साहित हुए।

इसमें मुख्य कलाकार शांति वर्मा, अरविंद राणा, सुरेश वर्मा, निकेश, गजेंद्र, रमेश, कैलाश, रिंकू, तनु, दीक्षा, ममता आर्य आदि कलाकारों ने शानदार प्रस्तुति दी। जौनसारी और गढ़वाली गीतों की प्रस्तुति से बेहद मनमोहनक रही। कृषि आधारित जौनसारी गीत ”चाल बल जाखधार की सेरी पर दर्शक जम कर झूमे।

Rakesh Kumar Bhatt

https://www.shauryamail.in

Related post

error: Content is protected !!