Breaking News

फर्जी रिपोर्ट प्रस्तुत कि तो मुकदमा दर्ज करें : डी.एम

 फर्जी रिपोर्ट प्रस्तुत कि तो मुकदमा दर्ज करें : डी.एम

फर्जी रिपोर्ट प्रस्तुत कि तो मुकदमा दर्ज करें : डी.एम

देहरादून,

जिलाधिकारी डॉ० आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। इस दौरान दून जनपद के डीएम ने स्वास्थ्य विभाग और सभी उप जिलाधिकारियों को सख्ती से निर्देश दिये कि अन्य राज्यों एवं जनपदों से हमारे राज्य में आने वाले व्यक्तियों की जनपद की सीमा चैकपोस्ट पर कोविड-19 की रिपोर्ट ठीक तरह से चैक करें यदि किसी व्यक्ति की आरटीपीसीआर रिपोर्ट फर्जी पायी जाती है तो तत्काल उसका आरटीपीसीआर टैस्ट करें साथ ही फर्जी रिपोर्ट प्रस्तुत करने वालों पर सख्त वैधानिक कार्यवाही करें।

 

इसके अतिरिक्त उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि कहीं पर भी सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का अनुपालन नहीं किया जाता तो सख्ताई बरतें तथा यदि आवश्यकता हुई तो महामारी अधिनियम के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज करें, किन्तु किसी भी प्रकार से सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहनी चाहिए। इसके लिए उन्होंने पुलिस विभाग को भी गंभीरता दिखाते हुए कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित किया कि ऐसे गैर सरकारी अस्पताल जो कोविड-19 के बीजकों, इन्सुरेंस और भुगतान में मनमानी कर रहे हैं उन पर क्लीनिकल एस्टबलिशमेंट एक्ट के तहत् सख्त कार्यवाही करें तथा जो अस्पताल फिर भी मनमानी करते हैं तो अधिनियम के तहत् सख्त कार्यवाही करते हुए पंजीकरण निरस्त करने और भविष्य में उनका नवीनीकरण नहीं करने के निर्देश दिये।

इस दौरान दून जनपद के डीएम ने आगामी त्यौहारों को दृष्टिगत रखते हुए सभी उप जिलाधिकारियों को सतर्क रहने तथा अपने-अपने क्षेत्र में पीस कमेटी के माध्यम से धर्मगुरूओं से त्यौहारों को कोविड संक्रमण से बचाव हेतु जारी मानकों का पालन करते हुए शालीनता से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घर-घर पर ही मनायें जाने हेतु वार्ता करने को कहा। वही इसी के साथ ही डीएम ने आगामी समय में कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर की चेतावनी के दृष्टिगत उससे निपटने तैयारियों को भी समय से पूरा करने के निर्देश दिये और भारत सरकार को इस सम्बन्ध में दीर्घकालिक योजना के अन्तर्गत चिकित्सालयों में बढाये जाने वाली अवस्थापनाएं, बैड, भवन एवं मैनपावर आदि प्रेषित किये जाने वाले विवरण को भी समय से प्रेषित करने को कहा। उन्होंने बरसात में डेंगू की रोकथाम के सम्बन्ध में भी समय से जरूरी कदम उठाते रहने को कहा। इस दौरान बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व गिरीश चन्द्र गुणवंत, अपर जिलाधिकारी प्रशासन वीर सिंह बुदियाल, मुख्य चिकित्साधिकारी मनोज उप्रेती सहित स्वास्थ्य विभाग और विभिन्न क्षेत्रों के उप जिलाधिकारी उपस्थित थे।

Digiqole ad

Rakesh Kumar Bhatt

https://www.shauryamail.in

Related post

error: Content is protected !!