Breaking News

उत्तरकाशी टनल हादसे की उच्च स्तरीय जांच की मांग

 उत्तरकाशी टनल हादसे की उच्च स्तरीय जांच की मांग

उत्तराखंड(देहरादून),शुक्रवार 17 नवंबर 2023

पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मंत्री प्रसाद नैथानी ने उत्तरकाशी में हुए टनल हादसे की राष्ट्रपति से उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि अभी तक मजदूरों का बाहर नहीं निकल पाना चिंता का विषय बना हुआ है।

कांग्रेस नेता नैथानी के नेतृत्व में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने घटनास्थल का दौर कर गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में पत्रकार वार्ता की। इस दौरान उन्होंने बताया कि वह खुद घटना स्थल पर गए थे। कंपनी की ओर से गुणवत्ता का कोई ख्याल नहीं रखा जा रहा है। साथ ही सुरक्षा के भी कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं। उन्होंने कंपनी को ब्लैक लिस्टेड करने की सरकार से मांग की है।

उन्होंने कहा कि वहां पर राहत और बचाव के काम में लगी हुई सभी एजेंसियां और जिला प्रशासन पूरी कोशिश कर रहा है कि मजदूरों को किसी तरह सुरक्षित बाहर निकाला जाए।

प्रसाद नैथानी ने कहा कि यह कोई पहली घटना नहीं है कि उस टनल में वहां पर मलबा आया हो वहां पहले भी तीन बार इस तरह की छोटी घटनाएं हो चुकी थीं, फिर भी पहले से प्रोटेक्शन के काम क्यों नहीं किए गये। टनल बनाने के पूर्व टनल का सेफ्टी ऑडिट हुआ तो उसकी मॉनिटरिंग क्यों नहीं हुयी।

उन्होंने कहा कि कार्यदायी संस्था ने मॉनिटरिंग में लापरवाही बरती है। मजदूरों को दीपावली जैसे राष्ट्रीय त्योहार पर छुट्टी नहीं दी गयी। जिस कंपनी को इस टनल का काम दिया गया है वह पहले से ही विवादित कम्पनी है और महाराष्ट्र में इस कंपनी पर गंभीर आरोप हैं और कम्पनी पर जांच भी चल रही है। उन्होंने कहा कि ये कंपनी ऋषिकेश, कर्णप्रयाग रेल लाइन में भी टनल निर्माण का कार्य कर रही है।

नैथानी ने कहा कि अभी तक वहां जिले के प्रभारी मंत्री नहीं पहुंचे हैं। मुख्यमंत्री वहां जरूर पहुंचे थे, लेकिन वो भी जिला प्रशासन पर सारी जिम्मेदारी छोड़ गए। इससे साबित होता है कि प्रदेश सरकार इस घटना पर कितनी गंभीर है।

Rakesh Kumar Bhatt

https://www.shauryamail.in

Related post

error: Content is protected !!