Breaking News

पल्स पोलियो खुराक से आच्छादित होंगे 0-5 वर्ष तक के बच्चे

 पल्स पोलियो खुराक से आच्छादित होंगे 0-5 वर्ष तक के बच्चे

उत्तराखंड(देहरादून),मंगलवार 20 फरवरी 2024

जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सोमवार को पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाने व बूथ दिवस (तीन मार्च) पर 0-5 वर्ष तक के सभी बच्चों को खुराक पिलाने, पोलियो बूथ पर समस्त सुविधाएं एवं व्यवस्थाएं बनाने के संबंध में बैठक हुई।

जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि पल्स पोलियो खुराक से कोई भी बच्चा वंचित न रहे, इसके लिए व्यापक स्तर पर व्यवस्था कर बच्चों को आच्छादित करें। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाए जाने के लिए व्यापक योजना तैयार किया जाए। जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास जितेंद्र कुमार के साथ आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को पल्स पोलियो अभियान में शत-प्रतिशत भागीदारी करने का निर्देश दिया।

स्कूली छात्र बच्चों को पोलियो खुराक पिलाने के लिए करेंगे प्रेरित

विद्युत विभाग को निर्बाध विद्युत आपूर्ति, शिक्षा विभाग को बूथ दिवस पर जिन स्कूलाें में बूथ स्थापित हैं उन्हें रविवार तीन मार्च को खुला रखने को कहा। वहीं स्कूलों में प्रार्थना सभाओं में छात्र-छात्राएं 0 से 5 वर्ष के बच्चों को पोलियो खुराक पिलाने के लिए निकटतम बूथ पर आने के लिए प्रेरित करेंगी।

ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्य करेंगे प्रचार-प्रसार

विकास विभाग ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्य के माध्यम से अभियान का प्रचार-प्रसार करने के साथ पल्स पोलियो कार्यकर्ताओं को सहयोग प्रदान करेगा। वहीं पुलिस विभाग जनपद के विभिन्न स्थलों पर आने-जाने वाले 0 से 05 वर्ष तक के बच्चों को दवा पिलाने में सहयोग देगा। सूचना विभाग को भी प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए।

2.33 लाख बच्चों को पल्स पोलियो खुराक पिलाने का लक्ष्य

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ संजय जैन ने बताया कि जनपद में 0-05 वर्ष तक के 2,33,500 बच्चों को पल्स पोलियो खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसमें तीन मार्च को बूथ पर तथा चार मार्च से नौ मार्च तक घर-घर जाकर खुराक पिलाई जाएगी।

1501 बूथ बनाए गए, 339 पर्यवेक्षक तैनात

पल्स पोलियो खुराक पिलाने के लिए जनपद में 1501 बूथ बनाए गए हैं। इनमें स्थिर बूथ 1403, ट्रांजिट बूथ 72, मोबाईल बूथ 26 हैं। कार्यक्रम के लिए 339 पर्यवेक्षक, 1360 टीम व घर-घर तक ड्रॉप पिलाने के लिए 94 ट्रांजिट टीम, 38 मोबाइल टीम लगाई गई है।

Rakesh Kumar Bhatt

https://www.shauryamail.in

Related post

error: Content is protected !!