Breaking News

भाजपा देवभूमि से यूसीसी का संदेश देना चाहती है, कांग्रेस तुष्टिकरण का: महेन्द्र भट्ट

 भाजपा देवभूमि से यूसीसी का संदेश देना चाहती है, कांग्रेस तुष्टिकरण का: महेन्द्र भट्ट

उत्तराखंड(देहरादून),शुक्रवार 17 नवंबर 2023

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने यूसीसी को लेकर कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार कर कहा कि हम देवभूमि से समान कानून का संदेश देना चाहते हैं और कांग्रेस तुष्टिकरण का।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र भट्ट ने पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि समान नागरिक संहिता (यूसीसी) के माध्यम से हम सभी नागरिकों के लिए समान कानून बनाना चाहते हैं लेकिन कांग्रेस को उसमें भी हिंदू मुस्लिम नजर आता है। उन्होंने यूसीसी के ड्राफ्ट पर सवाल खड़ा करने वाले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा पर कटाक्ष किया कि जिस तरह वे बाहर बयान दे रहे हैं, उससे तो लगता है कि उन्हें अपने विधायकों की क्षमता पर भरोसा ही नहीं कि वे सदन में ड्राफ्ट को लेकर अपनी बात सही तरीके से रख पाएंगे। जबकि सभी जानते हैं कि ड्राफ्ट को सदन में पेश किया जाएगा, उस पर बहस होगी और सुझाव दिए जाएंगे। हालांकि जब ड्राफ्ट कमेटी ने सुझाव के लिए सभी राजनैतिक दलों को बुलाया था तो कांग्रेस पार्टी ने नदारद रहकर अपनी मंशा स्पष्ट कर दी थी।

उन्होंने कहा कि इस कानून को लागू करने की शुरुआत करने वाला उत्तराखंड से बेहतर अन्य कोई राज्य नही हो सकता है। लिहाजा हम चाहते हैं कि देवभूमि से समान नागरिक कानून का संदेश जाए। यदि कांग्रेस को इतनी ही चिंता है तो लागू करने की तो उन्हें अपनी राजस्थान, कर्नाटक व अपने अन्य राज्यों सरकारों को सुझाव देना चाहिए। भाजपा की मंशा शुरुआत से ही यूसीसी लागू करने की है और कांग्रेस की मंशा तुष्टिकरण के लिए इसका विरोध करने की रही है।

उन्होंने सरकार में दायित्व के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अभी हमारी प्राथमिकता टनल में फंसे मजदूर भाईयों को सुरक्षित निकालना है। उन्होंने उम्मीद जताई कि उसके बाद शीघ्र ही दायित्वधारियों की अगली सूची जारी हो जाएगी।

उन्होंने अधिकारियों के उनकी पहली तैनाती स्थल के एक गांव को गोद लेने वाली मुख्यमंत्री धामी की पहल का स्वागत किया । उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति चाहे वो जनप्रतिनिधि हो या अधिकारी, सबका नैतिक कर्तव्य है जनता के प्रति जिम्मेदारी का निर्वहन करना।

महेन्द्र भट्ट ने कोटद्वार भाजपा कार्यालय को लेकर स्पष्ट किया कि कार्यालय की जमीन हमारे नाम है, सभी कागज सही हैं। शीघ्र ही हम वहां भूमि पूजन करते नजर आएंगे।

Rakesh Kumar Bhatt

https://www.shauryamail.in

Related post

error: Content is protected !!